सेल्फ वर्कर्स ग्लोबल- एस. डब्लू. जी.

स्ट्रीटनेट से कुछ सदस्य संगठनों के बाहर निकलने, और स्ट्रीटनेट में शासन के तरीके के बारे में अन्य संबद्ध संगठनों से आने वाले नकारात्मक तथ्यो ने हमें अनौपचारिक अर्थव्यवस्था के अंदर और बाहर स्व-नियोजित श्रमिकों का प्रतिनिधित्व करने वाले एक नए संगठन का गठन करने के लिए प्रेरित किया है।

सेल्फ वर्कर्स ग्लोबल नामक इस नए संगठन में एनजीओ की नहीं, बल्कि पेशेवर एसोसिएशन के क़ानून हैं। पेशेवर संघों पर अंतरराष्ट्रीय कानून के अनुसार, स्पेन के आंतरिक मामलों के मंत्रालय द्वारा अनुमोदित क़ानून के तहत उयाह पंजीकृत है।

हमारा मुख्य उद्देश्य स्व-नियोजित श्रमिकों के लिए सामाजिक सुरक्षा में अधिकारों का दावा करना है, नए स्वरोजगार स्थलों के निर्माण का समर्थन करना है, दुनिया भर में स्व-नियोजित श्रमिकों के अधिकारों और कर्तव्यों को समरूप बनाना और विभिन्न सरकारों द्वारा हमारे सहयोगियों पर किए गए हमलों का खंडन करना है।

हमारी ताकत पारदर्शिता और भागीदारी पर आधारित है। एसडब्ल्यूजी अपने प्रत्येक सदस्य संगठन को बिना किसी रुकावट के, बिना किसी हस्तक्षेप के आवाज देगा। हम चाहते हैं कि एसडब्ल्यूजी में ट्रेड यूनियन का चरित्र के साथ-साथ प्रतिनिधित्व, दावा और रक्षा विशेषता भी हों ।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *

राज्यों से समाचार

कार्यान्वयन पर अमल करने वाले शहर
Posted in: कार्यान्वयन पर अमल करने वाले शहर, नासवी

पंजाब स्ट्रीट विक्रेताओं के मुद्दों पर चर्चा करने के लिए, लुधियाना रेहड़ी फदी फेडरेशन ने नासवी के सहयोग से 4 नवंबर, 2014 को लुधियाना में एक राज्य सम्मेलन का आयोजन किया। राज्य सम्मेलन में लुधियाना के मेयर और आयुक्त के साथ – साथ  पंजाब के 10 राज्यों – लुधियाना, संगरूर, अमृतसर, बरनाला, खनौरी, चंडीगढ़, राजपुर, […]

Read More

आगामी कार्यक्रम

आगामी कार्यक्रम
Posted in: आगामी कार्यक्रम

सामाजिक सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय गठबंधन (एनएएसएस: नेशनल अलायंस फाॅर सोशल सेक्युरिटी)े नासवी के सहयोग से, 3 और 4 दिसंबर, 2014 को दो दिवसीय राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन करने जा रहा है। सम्मेलन का विषय सामाजिक सुरक्षा के मुद्दे को केंद्रीय मंच पर लाना है। एनएएसएस अपने छह गठबंधन संघों के साथ असंगठित क्षेत्र की […]

Read More

सेल्फ वर्कर्स ग्लोबल- एस. डब्लू. जी.